Home Health चीन में कोरोना वायरस के बाद बर्ड फ्लू H10N3 का पहला मामला,...

चीन में कोरोना वायरस के बाद बर्ड फ्लू H10N3 का पहला मामला, जानें इसके लक्षण और बचाव के बारे में | All You Need to Know More About H10N3 Strain of Bird Flu

101
0


क्‍या है एच10एन3?

H10N3, बर्ड फ्लू वायरस का एक कम रोगजनक या अपेक्षाकृत कम गंभीर स्ट्रेन है और इसके बड़े पैमाने पर फैलने का जोखिम बहुत कम है। चीन में एवियन इन्फ्लूएंजा के कई अलग-अलग स्ट्रेन हैं और कुछ छिटपुट रूप से लोगों को संक्रमित करते हैं।

कई वायरस जिम्मेदार

कई वायरस जिम्मेदार

बर्ड फ्लू फैलाने के लिए कई वायरस जिम्मेदार होते हैं लेकिन इसमें H5N1 को खतरनाक माना जाता है क्योंकि यही वायरस इंसानों में बर्ड फ्लू के संवाहक के तौर पर काम करता है। मानवों में बर्ड फ्लू के संक्रमण का पहला मामला साल 1997 में आया था जब हॉन्ग-कान्ग में मुर्गियों से एक शख्स में यह वायरस फैला था। साल 2003 से बर्ड फ्लू का यह वायरस चीन, यूरोप, अफ्रीका समेत एशिया के कई देशों में फैलना शुरू हो गया। अब बर्ड फ्लू के H10N3 स्ट्रेन का नया मामला सामने आया है।

बर्ड फ्लू के लक्षण

बर्ड फ्लू के लक्षण

बर्ड फ्लू एक खास तरह का श्वास रोग होता है यह रोग इतना खतरनाक होता है कि इससे संक्रमित व्यक्ति की जान भी जा सकती है। इस रोग में गले में खराश, खांसी, निमोनिया, बुखार, मांसपेशियों में दर्द, जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं।

बर्ड फ्लू से बचने के लिए तरीका

बर्ड फ्लू से बचने के लिए तरीका

बर्ड फ्लू से बचने के लिए एक ही तरीका है कि मरे हुए और संक्रमित पक्षियों से दूर रहे हैं और जिन लोगों को यह रोग हुआ है उनसे भी थोड़ी दूरी बना कर रखें।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here